शूटिंग गेम्स

जल्दी झुकें, ख़ुद को संभालें, और निशाना लगाएँ। समय आ गया है एड्रेनालिन की दैनिक खुराक लेने का! कूद पड़िए हमारी रोमांचक शूटिंग गेमों की दुनिया में और उस मजे को महसूस करें जिस के लिए आप तरस रहे है।
Mech Arena: Robot Showdown

वास्तविक समय का 5v5 युद्ध

आने वाले गेमों की अपडेट पाने के लिए सब्सक्राइब करें
जल्द ही हम आपके ले लिए लेकर आ रहे हैं और भी कई रोमांचक गेम्स! लॉन्च होते ही उन्हें आज़माने वाले सबसे पहले गेमर बनें।
गेमर्स के लिए प्लैटफ़ार्म
Plarium Play लॉन्चर
अपने सभी पसंदीदा गेमों को एक ही जगह डाउनलोड करें
चाहें आप पीसी पर हों या मैक पर, आप अपने डेस्कटॉप पर मुफ्त में गेम डाउनलोड करके उसका निर्बाध अनुभव कर सकते हैं।
सुलभ पीसी गेमिंग अनुभव पाएँ
अपने सिस्टम के अटकने की चिंता करे बगैर उच्च एचडी ग्राफिक्स और ऊंचे एफ़पीएस वाले गेमप्ले का आनंद ले। जल्दी प्रगति करने के लिए एक साथ कई गेम्स खेलें
जुड़ें विशव्यापी खिलाड़ी समुदाय से
प्लेरियम प्ले आपके कंप्यूटर पर गेम डाउनलोड करने के अतिरिक्त भी कई काम करता है। आप इसके माध्यम से अन्य खिलाड़ियों के साथ खेल के फीचर्स के बारे में ऑनलाइन बातचीत कर सकते हैं, नए दोस्त बना सकते हैं, और अपनी उपलब्धियां प्रदर्शित कर सकते हैं।

शूटिंग गेम गेमिंग जगत के सबसे गलत समझे जाने वाले गेम है। सौभाग्य से, हम आ गए हैं इस भ्रम को तोड़ने और ये बताने के लिए क्यूँ सर्वश्रेष्ठ शूटिंग गेम्स सभी को पसंद आते है।

शूटिंग गेमों का इतिहास

संघर्ष जीवन का एक आंतरिक हिस्सा है। एक सौम्य-स्वभाव वाला व्यक्ति भी खतरे के सामने आने पर आक्रमक प्रतिक्रिया दे सकता है। यह एक प्राकृतिक बचाव है जो अनादि काल से हमारे डीएनए का एक हिस्सा रहा है। संघर्ष जीन जन्मजात भावनाओ को सामने लाता है, यह इस बात का सीधा प्रमाण है की शूटिंग गेम लोकप्रिय हो गए है। इस श्रेणी की जड़ें 70 के दशक और भूलभुलैया शैली के खेलों तक जाती है। विभिन्न जालों के बीच से निकालने और दुश्मनों को हराने के अवधारणा ने आग पकड़ ली और इससे आई शुरुआती शूटिंग गेमों की एक लहर।

शूटर जहां खिलाड़ी अंतरिक्षयान या टैंक को नियंत्रित कर सकते हैं, आर्केड खिलाड़ियों के बीच लोकप्रिय हो गए, पर उन्होंने असल उड़ान भरी 80 और 90 के दशको में। कॉकपिट शूटिंग गेमों ने खिलाड़ियों का युद्ध के मैदान से परिचय कराया और 3D युद्धभूमियों ने गेमिंग जगत के मिश्रण में जटिलता को बढ़ा दिया। वास्तव में, 90 के दशक के मध्य तक, अमेरीकी सेना ने अपने सैनिको को प्रशिक्षित करने के लिए लोकप्रिय शूटिंग गेमों के मोड विकसित किए। अधिकारियों ने जल्द ही वास्तविक जीवन से मिलने वाली समानताओं को पहचान लिया और, इन खेलों का व्यवाहरिक उपयोग करना शुरू कर दिया।

सेना के लिए युद्ध की रणनीति विकसित करने और परीक्षण करने का एक सुरक्षित तरीका होने के साथ-साथ नि: शुल्क शूटिंग खेलों के मॉड लागत की दृष्टि से प्रभावी थे। गोला बारूद मुफ्त और मृत्यु या चोट का जोखिम शून्य था। इसने उन्हें एक मूल्यवान संसाधन बना दिया और एक ऐसा संसाधन भी जो आज तक उपयोग किया जाता है।

वर्षो से, प्रीमियम और मुफ्त ऑनलाइन शूटिंग गेम्स ने परिदृश्य और दुश्मनों के प्रभावशाली विकास से तकनीकी सुधार का निरंतर फायदा उठाया है। डेवलपर्स ने नए इंजनो को उपयोग किया जो 3डी ओब्जेक्ट्स पर एप टेक्सचर तेजी से प्रदान करने में सक्षम थे जिससे अलग-अलग ऊंचाइयों पर वॉकवे और इलाक़ों के साथ वातावरण बनाना संभव हुआ। परिदृश्य के विशिष्ट इलाक़ों पर रोशनी डालकर उन्हें जलाया जा सकता था और अन्य इलाको में अंधेरा डालकर एक तल्लीनतापूर्ण अनुभव बनाना संभव हो गया।

इस समृद्ध वातावरण के साथ, दुश्मनों का विकास कुछ इस प्रकार हुआ की वो इन सिम्यूलेटेड पारितंत्रों के जगत के अंदर ही रहने लगे थे। उनका एक-दूसरे से बात करना संभव हो गया था और उनके चालचलन में स्वतंत्रता की मात्रा काफी बढ़ गयी। बदले में, इसका परिणाम यह हुआ की खिलाड़ी के खतरे के पास जाने की बजाय खतरा खिलाड़ी को ढूंढकर खुद उसके पास आ सकता था। 90 के दशक के अंत के शुरुआती सिम्यूलेटेड पारितंत्र शूटिंग गेमों को एक अलग स्तर पर ले गए, पर उनका विकास यही नहीं रुका।

90 के दशक तक, खिलाड़ियो का साथ देने के लिए कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) आधारित दल सहयोगी गेमों में आ गए थे। हालांकि शुरू में वे अल्पविकसित रहे, इन स्वचालित सहभागियों ने अधिक जटिल मिशनो के लिए राह खोल दी। तो अगर खिलाड़ी का ध्यान एक कार्य पर केन्द्रित होता, तो उसके दल के साथी दूसरे कार्य को पूरा कर सकते थे। इन पात्रो के पीछे की एआई तकनीक में सुधार निरंतर जारी रहा है पर इस नवाचार ने टीम शूटिंग गेमों की राह भी प्रशस्त कर दी।

स्वाभाविक रूप से, शूटिंग गेमों में एआई दल सहयोगियों के आगे का स्तर था। ऐसे गेम बनाना जिसमें वास्तविक लोग एक दूसरे का सहयोग करके एक दल की तरह खेल सकें। इसी भावना को दिमाग में लेकर आए स्क्रिप्टिंग इंजन, जिनमें बदलाव किया जा सकता था, इनमें बदलाव करने की क्षमता ने इन्हें बहुत लोकप्रिय बना दिया और बहुत सी नयी मोडिंग समुदाय सामने आने लगे। स्क्रिप्टिंग इंजन ने खिलाड़ियों को अपने हथियारो में बदलाव करने, रीयल टाइम जियॉमेट्री प्लेसमेंट को शामिल करने और अधिक यथार्थवादी परिदृश्य बनाने की क्षमता दी। परिणामवश, इन सबसे ऐसे शूटिंग गेम्स सामने आए जिनमे जटिल, बहू-परतीय जगत, स्वचालित दुश्मन, और खिलाड़ियो द्वारा वास्तविक युद्ध नीतियों का प्रयोग करके अकेले या साथ खेलने के गुण शामिल थे।

मैं आज कौनसे शूटिंग गेम खेल सकता हूँ?

जैसे जैसे श्रेणी का विकास हुआ है, वैसे ही ये विभिन्न शाखाओं में फ़ेल गयी है, जिसमें ऑनलाइन शूटिंग गेम धीरे-धीरे बेहद लोकप्रिय हो गए हैं। आज, प्रीमियम और मुफ्त शूटिंग गेमों की मुख्य उपशैलियो में शामिल है:

शूट एम अप्स

इन शूटिंग गेमों में आमतौर पर ऊपर से नीचे या तिरछी स्क्रोलिंग वाला परिदृश्य होता है और दुश्मनों का निरंतर प्रवाह इनकी विशेषता होती है। इन गेमों में आपका उद्देश्य होता है दुश्मनों को गोली मारना और बिना मारे जितनी देर संभव हो उतनी देर खेलते रहना। शूट एम अप्स का चरम उदाहरण है बुलेट हेल गेम। क्यूंकी ये खेल आपको ऐसे परिदृश्यों में डालते हैं जिनमें आप दुश्मनों की गोलियों से घिरे हुए होते हैं। आपका लक्ष्य है जितनी देर तक हो सके, चारों तरफ से हो रहे हमलो से बचना और गोली मार्कर दुश्मनों को मार गिराना।

शूटिंग गेलरी

ये आधुनिक फर्स्ट-पर्सन शूटिंग गेमों के सरलीकृत संस्कारण है। इसमें सारा एक्शन फर्स्ट पर्सन दृष्टिकोण से होता है, लेकिन खिलाड़ी की जगह आमतौर पर स्थिर होती है। दूसरे शब्दो में, आपको स्वतंत्र रूप से घूमने की इजाज़त नहीं होती है। उसकी बजाय, दुश्मन आते रहते हैं और आपको उन्हें मार गिराना होता है।

लूट शूटर

इन मजेदार शूटिंग गेमों में RPG तत्व शामिल होते हैं और चीजों को इककट्ठा करने का लक्ष्य इन गेमों की विशेषता है। यह चीजें स्वयं गेम से ही जुड़े हुए होती हैं, उदाहरण के लिए, गोला-बारूद, हथियार और कवच इककट्ठा करना। आपका लक्ष्य होता है गेम में बचे रहकर प्रगति करने के लिए लगातार लूट एकत्र करना।

फर्स्ट पर्सन शूटर्स

फर्स्ट पर्सन शूटर गेम्स शूटिंग गेलरी गेमों की तरह ही, ये गेम आपको बंदूक की नली के पीछे ले जाते है। हालांकि, इन शूटिंग गेमों में, आप शत्रुओं को मारकर उनके प्रहारो से बचकर घूमने के लिए और विभिन्न वातावरणों की सैर करने के लिए स्वतंत्र हैं। इस उप श्रेणी से कई सारे सर्वश्रेष्ठ शूटिंग गेम सामने आए हैं और एक जमाने में शूटिंग दुनिया पर इन्हीं खेलो का दबदबा था।

थर्ड पर्सन शूटर्स

ये लगबग फर्स्ट पर्सन शूटिंग गेमों की तरह ही काम करते हैं लेकिन इन खेलों में खिलाड़ी का दृष्टिकोण अलग होता है, थर्ड पर्सन शूटरों में, आपको 3डी वातावरण देखने की इजाज़त मिलती है। हालांकि, कैमरा ओवर-द-शोल्डर या एरियल व्यू कैप्चर करता है जिससे आप अपने पात्र को पूरी तरह से देख सकते है।

टैक्टिकल शूटर्स

सबसे मजेदार शूटिंग गेमों में से कुछ गेम वो होते हैं जिनमे एक रणनीतिज्ञ तत्व शामिल होता है। हालांकि यह तर्क दिया जा सकता है की सभी शूटिंग गेमों में एक रणनीतिज्ञ तत्व शामिल होता है, टैक्टिकल शूटर गेम्स वास्तविकता के मामले में अन्य शूटिंग गेमों से बेहतर होने की कोशिश करते हैं। इनमें अकसर पुनर्योजी स्वास्थ्य नहीं होता है, दुश्मन के हमले अधिक हानिकारक होते हैं, इन खेलों में कम सटीकता वाले यथार्थवादी बैलिस्टिक होते हैं, कूदने की ऊंचाई कम होती है, और पावर अप्स सीमित होती है। इसका मतलब यह है कि हमलों की योजना बनाते और उन्हें निष्पादन करते समय आपको बहुत सावधान रहना होगा।

दल आधारित शूटर्स

इन गेमों को अक्सर फर्स्ट पर्सन दृष्टिकोण से खेला जाता है पर हर बार मामला यही नहीं होता है। इस उपशैली की परिभाषित विशेषता यह है की आप कई खिलाड़ियों के साथ एक ही एरीना में होते हैं और आपका लक्ष्य होता है अंत तक बचे रहना। आपको अक्सर गोला-बारूद की निरंतर पर्याप्तता दी जाती है, पर आपको तब भी रीलोड अवधियों से निपटना पड़ता है। दल आधारित शूटरों में अक्सर अलग-अलग गेमिंग मोड्स भी होते हैं। आपको दुश्मन के झंडे को, उनके क्षेत्र को जीतना हो सकता है या विरोधी दल के सभी खिलाड़ियों को मारना हो सकता है (डैथमैच)।

बैटल रॉयल

यह आज तक की सबसे लोकप्रिय शैली है। ये अंत तक बचे रहने वाली चुनौतियाँ है जहां पर युद्धभूमि समय के साथ-साथ छोटी होती जाती है। आपको चीजों को एकत्र करके जीतने के लिए अन्य सभी खिलाड़ियों को हराना होता है। एड्रेनालिन का मजा और प्रतियोगिता के रोमांच के साथ-साथ इन गेमों के देखे-जाने की क्षमता ने इन गेमों को ईस्पोर्ट्स की दुनिया में एक धमाकेदार रॉकस्टार बनाने में विशेष योगदान दिया है।

ऑनलाइन शूटिंग गेमों में सभी के लिए कुछ न कुछ मौजूद है

जैसा की हमने बताया, पीसी, कोन्सोल्स और ओनलाइन शूटिंग गेम में वर्ष प्रति वर्ष विकास हुआ है। आज ऐसी बहुत सी उप शैलियाँ ही जिनमे कुछ बेहतरीन शूटिंग गेम शामिल है। भले ही आप डेक्सटोप डिवाइस, कोंसोल या मोबाइल के माध्यम से खेल रहे हो, ये गेम हर आकार में आपको मजा देने के लिए मौजूद है।

जिन्हें सिर्फ इन गेमों की प्रतिद्वंदीता और रणनीतिया पसंद है, उन लोगों के लिए बहुत से मजेदार शूटिंग गेम मौजूद है जिनमें कोई खून-खराबा नहीं है और कुछ ऐसे भी है जिनमें आपको गोली चलाने की भी जरूरत नहीं है, उनके बदले आप ब्लोब्स या अन्य मजेदार चीजें शूट कर सकते हैं। जिन लोगों को कुछ मनोरंजक चाहिए और सस्ता भी, उनके लिए मुफ्त ऑनलाइन गेम्स मौजूद है जो बिना किसी दाम के तल्लीनता पूर्ण अनुभव देते है।

यदि आपको युद्ध जैसे परिदृश्य और रणनीतिज्ञ लड़ाइयाँ पसंद है, तो फर्स्ट पर्सन और एरीना शूटिंग गेम्स आपके लिए बेहतरीन रहेंगे। इससे फर्क नहीं पड़ता की वे प्रिमियम हों या मुफ्त, आज के शीर्ष गेम एसे ऑनलाइन शूटिंग गेम्स आपको मनोरंजन, रोमांच और पलायनवाद का अनुभव देने में कहीं पीछे नहीं रहेंगे।

हम ऑनलाइन शूटिंग गेम क्यूँ खेलते है?

एक आम गलतफहमी है की शूटिंग गेम उन्हीं लोगो के बीच लोकप्रिय है जिन्हें मारा मारी पसंद है। वास्तव में, ये बात बिलकुल भी सही नहीं है। हाँ, कुछ ऑनलाइन शूटिंग गेम्स ऐसे होते हैं जिनके संदर्भ हिंसक हो सकते हैं, लेकिन हमारे इन खेलों को खेलने का कारण यह नहीं है। विशेषज्ञों के अनुसार, शूटिंग गेम हमें विभिन्न मनोवैज्ञानिक आग्रहों को पूरा करने में हमारी मदद करते हैं।

प्रतिस्पर्धा

सोशिओलोजिस्ट रॉस हेंफ्लर का कहना है कि “लड़ाई के लिए तैयार रहना” एक प्राकृतिक मानवीय भावना है। यह हमें हमारी चीजों की रक्षा करने के लिए प्रेरित करता है, और बदले में प्रतिस्पर्धी होने के लिए प्रोत्साहित करता है। जब आपको अपने ऊपर खतरा महसूस होता है, लाभ अर्जित करने के लिए आपकी पलटवार करने की संभावना बढ़ जाती है। प्रतिस्पर्धा का सर यही है। आप अपना दबदबा साबित करने के लिए लड़ रहे है। प्रीमियम और मुफ्त ऑनलाइन शूटिंग गेम्स आपको इस इच्छा को एक सुरक्षित, मनोरंजक और मिलनसार तरीके से पूरा करने की क्षमता देते हैं। इसके अलावा, जब भी आप कोई लड़ाई जीतते है तब आपको उपलब्धि की भावना महसूस होती है।

नियंत्रण

खेलों के शोधकर्ता स्कॉट रिगबी हमें बताते है की भूख और नींद की तरह ही नियंत्रण भी एक महत्वपूर्ण मनोवैज्ञानिक इच्छा है। हम महसूस करना चाहते हैं की सारे निर्णय हम ले रहे हैं और महत्वपूर्ण बात यह की उन निर्णयों का नियंत्रण हमारे हाथ में है। शूटिंग गेम्स इन चीजों को चरम तक ले जाते हैं। जब आपको पता हो की एक गलत कदम आपकी जान ले सकता है (भले ही यह आभासी हो), तब सभी चीजें दाव पर लग जाती है। आपके द्वारा लिए गए फैसलों के परिणाम होते है और इससे आप अधिक सशक्त महसूस करते है।

संबन्धितता

रिगबी संबन्धितता की अवधारणा की ओर भी इशारा करते हैं। हमें दूसरे लोगों से जुड़ाव महसूस करना अच्छा लगता है और खतरे के समय यह कहीं अधिक महत्वपूर्ण है। एक फर्स्ट पर्सन शूटिंग गेम जिसमें आपको दूसरों के साथ चतुराई से काम करने की आवश्यकता होती है, यह इस मनोवैज्ञानिक खुजली को ठीक करने का सही तरीका है। जब आप ऑनलाइन शूटिंग खेलों में कोई मुश्किल मिशन पूरा करते है, तो इससे मिलनसारिता की एक भावना पैदा होती है जिसके लिए हम मनुष्य तरसते हैं। 

संक्षेप में, प्रीमियम और मुफ्त शूटिंग गेम हमें प्रतिस्पर्धी बनाने और विभिन्न परिदृश्यों को सुरक्षित तरीके से जीने की अनुमति देते हैं। भले ही ये वो यथार्थवादी या पागलपन से भरा शूटिंग गेम हो, एक पूर्वाभास की भावना होती है जो हमारे दिमाग़ में एड्रेनालिन की अनुक्रिया शुरू करता है। इससे हम स्टिम्युलेट होते हैं और, बदले में, यह हमारी कुछ आधारभूत जरूरतों को पूरा करता है। इससे भी महत्वपूर्ण बात, ये खेलने में बहुत मजेदार होते हैं, तो इंतेजार किस बात का? आज ही एक शूटिंग गेम आजमा कर देखें!